Header Ads Widget

एक सन्नाटा - Hindi Short Film Script

Pic Credit - StockSnap


Short Film (Synopsis): -


कभी कभी ऐसा देखा गया है कि दुष्ट प्राणी जो दुसरो के लिए गढ़ा खोदता है, वो उसी में गिरता है।

इस शार्ट फिल्म में एक सीमा तक इसी भाव को दर्शाया गया है। इसमें दो आदमी है। पहला सुरेश और दूसरा रविश कुमार। दोनों में एक अच्छा मानव है तो दूसरा पापी। एक नेक ह्रदय है तो दूसरा दुष्ट आत्मा।



ये भी पढ़े :
Hi Zindagi - मनोरंजन के साथ प्रेरणा भी - A Motivational Web Series Script In Hindi



पारुल अपनी फ्रेंड निशि के साथ जब पहली बार अपनी एक दूर की आंटी के घर जाने के लिए बस से उतरती हैं तो वहां दूर दूर तक कोई नही होता हैं। सड़क पर सन्नाटा छाया होता हैं। मुख्य सड़क से दो अलग अलग रास्ते दो दिशाओ में जाता हुआ दिखता हैं।

मगर पारुल को जाना किस रास्ते से हैं। ये उसे मालूम नही हैं। अड्रेस तो हैं मगर वहां बताने वाला कोई नही हैं। पारुल तो आंटी को सरप्राइज देना चाहती थी। मगर थक कर जब वह फोन लगाती हैं तो फोन नोट रीचेबल बताता हैं। तभी उन्हे सामने वाली सड़क से एक आदमी सुरेश आता हुआ दिखता हैं।



ये भी पढ़े :
Amarjit - A mysterious Man - Horror Thriller Short Film Script in Hindi





पारुल उस अंजान आदमी से नैन्सी गाँव का रास्ता पूछती हैं। सुरेश बताता हैं कि वह जिस रास्ते से आया हैं वही रास्ता नैन्सी गाँव की ओर जाता हैं। मगर गाँव छः किलोमीटर दूर भी और वहां जाने के लिए शाम से पहले कोई वाहन भी नही हैं। रास्ता भी सुनसान हैं। दोनो लड़कियां सोच में पर जाती हैं की अब वह क्या करें क्योकि वहां से लौटने के लिए भी बस शाम में ही मिलती हैं। तभी दूसरी ओर जाने वाली सड़क से रविश कुमार बाईक चलाता हुआ आता हैं।



ये भी पढ़े :
A Risky Love - Horror Thriller Short Film Script in Hindi



रविश कुमार लड़की के करीब आकर बाईक रोकता हैं और उसे गाँव तक छोड़ने की बात कहता हैं। मगर वह गाँव जाने का रास्ता दूसरी ओर बताता हैं।

अब लड़कियां किस पर विश्वास करें ! कौन सच बोल रहा हैं….कौन झूठ…..लेकिन तभी…….


************************



Ek Sannata ......!!

" Hindi Short Film "

Continue......  maker can contact for this script

Script Writer

Rajiv Sinha

(सर्वाधिकार लेखक के पास सुरक्षित है। इसका किसी भी प्रकार से नकल करना कॉपीराईट नियम के विरुद्ध माना जायेगा।)

Copyright © All Rights Reserved


Post a Comment

0 Comments